विश्वासियों की परमेश्वर पर निर्भरता!