मिशन्स के लिए क्रिसमस का नमूना

मिशन्स के लिए क्रिसमस का नमूना

ख्रीष्ट आगमन | अठारहवाँ दिन
जैसे तू ने मुझे संसार में भेजा, मैंने भी उन्हें संसार में भेजा है। (यूहन्ना 17:18)

क्रिसमस मिशन्स के लिए एक नमूना है। मिशन्स क्रिसमस का एक दर्पण है। जैसा मैं, वैसे ही आप।

उदाहरण के लिए, संकट। ख्रीष्ट अपनों के पास आया और उसके अपनों ने उसे ग्रहण नहीं किया। वैसे ही आप के साथ भी होगा। उन्होंने उसके विरुद्ध षडयंत्र रचा। आप के साथ भी ऐसा होगा। उसका कोई स्थायी घर नहीं था। आप के साथ भी ऐसा होगा। उन्होंने उसके विरुद्ध झूठे आरोप लगाए। आप के साथ भी ऐसा होगा। उन्होंने उसे कोड़े मारे और उसका ठट्ठा उड़ाया। आपके साथ भी ऐसा होगा। तीन वर्ष की सेवा के पश्चात उसकी मृत्यु हो गई। आप के साथ भी ऐसा होगा।

परन्तु इन सब से भी निकृष्ट एक संकट है जिस से यीशु बच गया। आप के साथ भी ऐसा होगा!

16 वीं शताब्दी के मध्य में, मिशनरी फ्रांसिस ज़ेवियर (1506-1552) ने, मलक्का (आज मलेशिया का हिस्सा ) के फादर पेरेज़ को, चीन देश में अपनी मिशनरी यात्रा के समय जिन विपत्तियों का सामना किया था उनके विषय में लिखा। उन्होंने कहा, “सभी संकटों से बड़ा संकट होगा परमेश्वर की दया में भरोसे और निश्चयता को खोना . . . उस पर भरोसा न करना किसी भी शारीरिक हानि की तुलना में कहीं अधिक भयानक बात होगी, जिसे परमेश्वर के सभी शत्रु मिल कर हम पर ला सकते हैं, क्योंकि परमेश्वर की अनुमति के बिना न तो शैतान और न ही उनके मानव सेवक हमारे मार्ग में थोड़ी सी भी बाधा डाल सकते हैं।”5

सबसे बड़ा संकट जिसका सामना एक सुसमाचार प्रचारक कर सकता है वह मृत्यु नहीं है, वरन परमेश्वर की दया पर भरोसा न करना है। यदि यह संकट टल जाता है, तो अन्य सभी संकट अपना डंक खो देते हैं।

अन्त में परमेश्वर हर कटार को हमारे हाथ में एक राजदण्ड बनाता है। जैसा कि जे. डब्ल्यू. अलेक्ज़ैन्डर का कहना है, “वर्तमान श्रम के प्रत्येक पल को अनुग्रह के साथ करोड़ों युगों की महिमा के द्वारा चुकाया जाएगा।”6

ख्रीष्ट इस संकट से बच गया—परमेश्वर पर भरोसा न करने का संकट। इस कारण परमेश्वर ने उसको अति महान किया है! जैसे वह, वैसे ही आप।

इस ख्रीष्ट आगमन पर स्मरण रखें कि क्रिसमस मिशन्स के लिए एक नमूना है। जैसा मैं, वैसे ही आप। और उस मिशन का अर्थ है संकट। और सबसे बड़ा संकट है परमेश्वर की दया पर भरोसा न रखना। आप इसमें गिरे तो सब कुछ खो जाएगा। आप इस पर विजय प्राप्त करें और करोड़ों युगों तक कुछ भी आप की हानि नहीं कर पाएगा।

5 ख्रीष्टीय मिशन्स के विवरणों को “फादर पेरेज़ को एक पत्र,” से लिया गया है, सम्पादक फ्रांसिस एम. डूबोस
(नैशविल, टेनेसी: ब्रॉडमैन प्रेस, 1979), 221f.
6 जे. डब्ल्यू. अलेक्ज़ैन्डर, प्रचार पर विचार: उपदेश कला में उत्कृष्ट योगदान (एडि नबर्घ : बैनर ऑफ़ ट्रूथ, 1975),
108.

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email
Twelve Traits Front Cover