सच्चे शिष्य उदार होते हैं क्योंकि वे परमेश्वर से प्रेम करते हैं।

मत्ती 6:22-24
हेज़ेकायाह हर्षित सिंह
हेज़ेकायाह हर्षित सिंह
सत्य वचन कलीसिया में वचन की शिक्षा देने और प्रचार करने की सेवा में सम्मिलित हैं।
दुख को अनुशासन जान कर सहो, स्वयं की भलाई के लिए।
393 views
Twelve Traits Front Cover