एक सच्चा शिष्य परमेश्वर पिता से उसकी महिमा हेतु प्रार्थना करता है।

मत्ती 6:9-15