एक सच्चे शिष्य में परमेश्वर जैसा प्रेम पाया जाएगा ।

मत्ती 5:43​-47