प्रभु-भोज को समझना (Understanding The Lord’s Supper)

बॉबी जेमिसन
(1 customer review)

0.00100.00

प्रभु-भोज केवल एक ऐसी क्रिया नहीं है जिसे कलीसियाएँ केवल एक साथ एकत्रित होकर मनाती हैं। यह एक ऐसा महत्वपूर्ण कार्य है जो हमें एक साथ जोड़ता है और भिन्न-भिन्न लोगों को एक बनाता है। यह पुस्तिका बाइबल के आधार पर समझाती है कि प्रभु-भोज क्या है, यह कैसे एक स्थानीय कलीसिया के जीवन से सम्बन्धित है, किसे प्रभु-भोज मनाना चाहिए और हमारा इसके प्रति दृष्टिकोण कैसा होना चाहिए।

समान श्रृंखला की पुस्तकें:

  1. पुस्तक : [कलीसियाई अनुशासन को समझना]
  2. पुस्तक : [बपतिस्मा को समझना।]
  3. पुस्तक : [मण्डलीय अधिकार को समझना।]
  4. पुस्तक : [कलीसियाई अगुवाई को समझना।]
  5. पुस्तक : [महान् आदेश को समझना]
भार 0.65 kg
आयाम: 17.5 × 12.5 × 0.5 cm
प्रारूप (Format)

,

प्रकाशक (Publisher)

1 review for प्रभु-भोज को समझना (Understanding The Lord’s Supper)

  1. Rotas singh (verified owner)

    Waiting for Ebook

रिव्यु करें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *