क्रिसमस की एकता

परमेश्वर का पुत्र इस अभिप्राय से प्रकट हुआ कि वह शैतान के कार्य को नष्ट करे। (1 यूहन्ना 3:8)

शैतान की निर्माणशाला से प्रतिदिन लाखों पाप निकलते हैं। वह उन्हें विशाल मालवाहक विमानों में भरता है और उन्हें स्वर्ग लेकर जाता है और उन्हें परमेश्वर के सामने फैला देता है और हँसते-हँसते लोटपोट हो जाता है।

कुछ लोग इस निर्माणशाला में पूर्णकालिक रीति से काम करते हैं। अन्य लोगों ने वहाँ कार्य करना छोड़ दिया है और केवल कभी-कभार ही वे यहाँ पर लौटकर आते हैं।

इस निर्माणशाला में किये गए कार्य का प्रत्येक क्षण परमेश्वर को शैतान के उपहास का पात्र बनाता है। पाप शैतान का व्यवसाय है क्योंकि वह प्रकाश और सुन्दरता और पवित्रता तथा परमेश्वर की महिमा से घृणा करता है। शैतान को इस से अधिक और कुछ नहीं भाता है, जब प्राणी भरोसा नहीं करते हैं और अपने सृष्टिकर्ता के प्रति अनाज्ञाकारिता करते हैं। 

इस कारण, क्रिसमस मनुष्य के लिए अच्छा समाचार है और परमेश्वर के लिए अच्छा समाचार है।

“यह एक विश्वसनीय और सब प्रकार से ग्रहणयोग्य बात है कि ख्रीष्ट यीशु संसार में पापियों का उद्धार करने आया” (1 तीमुथियुस 1:15)। हमारे लिए यह अच्छा समाचार है।

“परमेश्वर का पुत्र इस अभिप्राय से प्रकट हुआ कि वह शैतान के कार्य को नष्ट करे” (1 यूहन्ना 3:8)। यह भी परमेश्वर के लिए अच्छा समाचार है।

क्रिसमस, परमेश्वर के लिए अच्छा समाचार है क्योंकि यीशु शैतान की इस निर्माणशाला में एक हड़ताल की अगुवाई करने के लिए आया है। उसने सीधे इस निर्माणशाला में प्रवेश किया, विश्वासयोग्य लोगों की एकजुटता का आह्वान किया और विशाल संख्या में लोगों को बाहर निकालना आरम्भ किया।

क्रिसमस, पाप की इस निर्माणशाला में हड़ताल करने का आह्वान है। प्रबन्धन से कोई समझौता वार्ता नहीं होगी। कोई मोलभाव नहीं किया जाएगा। केवल एक ही उद्देश्य है, अर्थात् उत्पाद के प्रति अटल विरोध। अब हम इस उत्पादन के कार्य के भाग नहीं होंगे।

क्रिसमस की एकता का उद्देश्य इन मालवाहक विमानों को रोकना है। इसमें बल या हिंसा का उपयोग नहीं होगा, परन्तु सत्य के प्रति अथक समर्पण के साथ यह जीवन को नष्ट करने वाली शैतानी उद्योग की स्थितियों को उजागर करेगा।

क्रिसमस की एकजुटता तब तक पराजय स्वीकार नहीं करेगी जब तक कि पूर्ण कामबंदी प्राप्त नहीं कर ली जाती है।

जब पाप नष्ट हो जाएगा तब परमेश्वर का नाम पूर्ण रीति से दोषमुक्त हो जाएगा। इसके पश्चात् कोई भी ठट्ठा नहीं कर रहा होगा।

यदि आप इस क्रिसमस पर परमेश्वर को उपहार देना चाहते हैं, तो पाप की इस निर्माणशाला से निकल जाएँ और उसमें लौटकर न जाएँ। आप प्रेम की उस पंक्ति का भाग बन जाएँ जो दूसरों को भी इस निर्माणशाला में प्रवेश करने से रोकती है। परमेश्वर के प्रतापी नाम के पूर्ण रीति से दोषमुक्त होने और उसके धर्मी लोगों की प्रशंसा के बीच अपनी महिमा में खड़े होने तक क्रिसमस की एकता में सम्मिलित हों।

साझा करें
जॉन पाइपर
जॉन पाइपर

जॉन पाइपर (@जॉन पाइपर) desiringGod.org के संस्थापक और शिक्षक हैं और बेथलेहम कॉलेज और सेमिनरी के चाँसलर हैं। 33 वर्षों तक, उन्होंने बेथलहम बैपटिस्ट चर्च, मिनियापोलिस, मिनेसोटा में एक पास्टर के रूप में सेवा की। वह 50 से अधिक पुस्तकों के लेखक हैं, जिसमें डिज़ायरिंग गॉड: मेडिटेशन ऑफ ए क्रिश्चियन हेडोनिस्ट और हाल ही में प्रोविडेन्स सम्मिलित हैं।

Articles: 348
Album Cover
: / :