बाइबल पर आधारित आशा

आपके पास ऐसा क्या है जो आपको दुख, बिमारी, सताव, निराशा के समय में भी जीवन जीने के लिए प्रेरित करती है? ख्रीष्टयों के पास ऐसा क्या है जो आपको कठिन परिस्थितियों में भी बने रहने के लिए उत्साहित करती है और आप विपरीत समय में भी स्थिर रहते हैं? वह है आशा! जो संसार पर आधारित नहीं वरन बाइबल पर आधारित है।

बाइबल आधारित आशा केवल यीशु द्वारा ही सम्भव है। बाइबल पर आधारित आशा को मनुष्य अपने स्वयं की कठिन मेहनत के आधार पर नहीं पा सकता है, वरन् यह केवल प्रभु यीशु ख्रीष्ट में विश्वास के माध्यम से ही प्राप्त किया जा सकता है। यह आशा उस व्यक्ति को मिलती है जिसके अन्दर विश्वास होता है। वह यह विश्वास करता है कि प्रभु यीशु मसीह ही उद्धारकर्ता है। हम अनन्तकाल की आशा में जीवन जीते हैं, क्योंकि यीशु ख्रीष्ट के माध्यम से हम स्वर्गीय स्थानों के अधिकारी हैं। हम उन सभी बातों को अभी नहीं देख सकते हैं, परन्तु हम ख्रीष्ट के साथ अभी भी राज्य कर रहे हैं, परन्तु एक समय हम वास्तव में उनके साथ अनन्त काल तक होंगे। आरम्भिक कलीसिया में जब विश्वासी, सताव, दुख, पीड़ाओं के मध्य में से होकर जा रहे हैं ‘उस समय भी आनन्दित हैं क्योंकि उनके पास जीवित आशा है, जो उनसे कोई नहीं छीन सकता’ (1 पतरस 1:3-6)।  

बाइबल पर आधारित आशा पूर्ण निश्चयता प्रदान करती है। बाइबल उस आशा के विषय में बात करती है जो सौ प्रतिशत निश्चित है। बाइबल आशा शब्द का उपयोग उन बातों के लिए करती है जो अभी लोगों को दिखाई नहीं दे रही है, किन्तु यह निश्चित है। परमेश्वर जो हमें आशा देता है वह आशा सुनिश्चित है।विश्वास के द्वारा हम उन बातों को देखते हैं कि वे सत्य हैं और एक दिन हमें प्राप्त होंगी। हमारी आशा भी इन्हीं अनन्त काल की चीजों पर लगी हुई होती हैं। यह आशा हमारी आने वाले भविष्य के जीवन के लिए है जो यीशु के कारण हमें मिलेगी ही मिलेगी! क्योंकि वह परमेश्वर स्वयं ही हमारी आशा का स्रोत है। वह हम सभी को आशा प्रदान करता है। आशा का मुख्य केन्द्र प्रभु यीशु ख्रीष्ट ही है। उसी में हमारा भरोसा है, उसी पर हमारी अनन्तकालीन जीवन की आशा निर्भर हैं।

बाइबल पर आधारित आशा हमें अनन्त काल के जीवन के लिए तैयार करती है। हमारी आशा को विश्वास बल देता है कि जिन बातों के विषय में आशा लगाए हुए हैं, वह हमें प्राप्त होंगी। विश्वास के द्वारा हम उन बातों को सच मानते हैं जिसको परमेश्वर ने हमें दे दिया है। वास्तव में अभी हमें वे चीजें दिखाई नहीं दे रही हैं, परन्तु

इस आशा को सुनिश्चित करने के लिए यीशु ख्रीष्ट ने स्वयं को दे दिया है। वह हमारे पापों के लिए बलिदान हो गया। उसने प्रतिज्ञा किया है कि जो उस पर विश्वास करेंगे, वे अनन्त जीवन पाएंगे। वे उसके पीछे चलेंगे और सदा तक परमेश्वर के साथ उसकी उपस्थिति में रहेंगे। इसलिए चाहे हमारे वर्तमान जीवन में कितनी भी कठिन परिस्थिति हो, स्मरण रखें बाइबल हमें आश्वासन देती है कि हमारा भविष्य यीशु के कारण अनन्त काल तक सुरक्षित और उत्तम है।

साझा करें:

अन्य लेख:

 प्रबल अनुग्रह

अपने सिद्धान्तों को बाइबल के स्थलों से सीखें। इस रीति से वह उत्तम कार्य करता है

फेर लाए गए

परमेश्वर के लोगों के पास तब तक कोई आशा नहीं है जब तक परमेश्वर उन्हें उनके

यदि आप इस प्रकार के और भी संसाधन पाना चाहते हैं तो अभी सब्सक्राइब करें

"*" indicates required fields

पूरा नाम*