आइज़क सौरभ सिंह

सत्य वचन कलीसिया में वचन की शिक्षा देने और प्रचार करने की सेवा में सम्मिलित हैं।
आज हमारे देश में ऐसा कोई नहीं है जो कोरोना वायरस की महामारी को लेकर चिन्तित न हो। सब के पास बात करने के लिए एक सामान्य विषय है। और...
“हमारे प्रभु यीशु ख्रीष्ट के पिता परमेश्वर की स्तुति हो, जिसने यीशु ख्रीष्ट को मृतकों में जिला उठाने के द्वारा, अपनी अपार दया के अनुसार, एक जीवित आशा के लिए...
यह प्रश्न बहुत ही महत्वपूर्ण है कि “ख्रीष्ट का मरना क्यों आवश्यक था?” क्योंकि ख्रीष्ट ने इस संसार में रहते हुए किसी भी प्रकार का पापी जीवन नहीं जीया। वह...
यह बात तो स्वतः स्पष्ट है कि संसार में अधिकतर लोग किसी न किसी ईश्वर पर विश्वास करते हैं। ईश्वर में विश्वास रखने वाले ऐसे लोग प्रार्थना द्वारा अपनी बात...
“तुम पवित्र बने रहो, क्योंकि मैं तुम्हारा परमेश्वर यहोवा पवित्र हूँ” (लैव्यव्यवस्था 19:20)। हमारा देश बेरोज़गारी, गरीबी, शिक्षा की कमी, भ्रष्टाचार, बीमारी आदि के साथ-साथ एक और बहुत बड़ी समस्या...
कलीसिया एक नया जन्म पाए हुए विश्वासियों का समूह है, जिन्होंने साथ में मिलकर मसीही जीवन जीने की वाचा बांधी है, और जिनसे वचन कहता है कि “एक दूसरे के...
Play Video
Play Video
Play Video
Play Video
Play Video
Play Video
Play Video
Play Video
Play Video
Play Video
Play Video